अंतस का संगीत - अंसार कम्बरी Antas Ka Sangeet - Hindi book by - Ansar Qumbari
लोगों की राय

कविता संग्रह >> अंतस का संगीत

अंतस का संगीत

अंसार कम्बरी


E-book On successful payment file download link will be available
प्रकाशक : भारतीय साहित्य संग्रह प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :113
मुखपृष्ठ : Ebook
पुस्तक क्रमांक : 9545
आईएसबीएन :9781613015858

Like this Hindi book 8 पाठकों को प्रिय

397 पाठक हैं

मंच पर धूम मचाने के लिए प्रसिद्ध कवि की सहज मन को छू लेने वाली कविताएँ



कारगिल युद्ध पर

कश्मीर हमारा है


पहले भी नहीं था न कभी होगा तुम्हारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

सदियों से रहा है ये हमारा अभिन्न अंग
हमने इसे सँवारा है देकर लहू का रंग
अब भूल के भी करना नहीं हमसे कभी जंग
पल भर में बिगड़ जायेगा भूगोल-तुम्हारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

कुदरत ने हमें दी है जो सौगात यहीं है
है हजरते - बल नूर की बरसात यहीं है
श्रद्धा का धाम तीर्थ अमरनाथ यहीं है
गंगा से कम नहीं है ये झेलम का किनारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

तुम पाक-साफ थे तो क्यों भागे इधर-उधर
तुमने तमाम देशों का क्यों तय किया सफर
रह जाओगे भटकते ही दुनिया में दर-बदर
झूठों को कभी देता नहीं कोई सहारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

ये कारगिल की जंग हुई इसलिए सफल
हम थे अटल हमारे इरादे भी थे अटल
मक्कारियों को छोड़ दे अब ज़हनियत बदल
घुसपैठ की गलती कभी करना न दुबारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

है देश को भरोसा है सरहद को इत्मेनान
कम होने नहीं देंगे कभी आन-बान-शान
जाँ अपनी लुटाने के लिये चल पड़े जवान
केसर की घाटियों ने इन्हें जब भी पुकारा
कश्मीर हमारा है, ये कश्मीर हमारा

* *

...पीछे | आगे....

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book