घरेलू चिकित्सा - श्रीराम शर्मा आचार्य Gharelu Chikitsa - Hindi book by - Sriram Sharma Acharya
लोगों की राय

आचार्य श्रीराम शर्मा >> घरेलू चिकित्सा

घरेलू चिकित्सा

श्रीराम शर्मा आचार्य

प्रकाशक : युग निर्माण योजना गायत्री तपोभूमि प्रकाशित वर्ष : 2020
पृष्ठ :60
मुखपृष्ठ : ईपुस्तक
पुस्तक क्रमांक : 15491
आईएसबीएन :00000

Like this Hindi book 0

5 पाठक हैं

भारतीय घरेलू नुस्खे

फोड़े की चिकित्सा

फोड़े की चिकित्सा यदि फोड़ा उठा ही हो तो उसे बैठाने के लिए ये लेप अच्छे हैं-

(१) हल्दी और चावल पानी में पीसकर लेप करें।

(२) दूब की जड़, खस, मुलहठी, चदन, सुगंधवाला, गुलाब के फूल, पद्माख-इन्हें पीसकर लेप करें।

(३) बड़ की जटाएँ, नीम की छाल, गैंदा की पत्ती, तुलसी के बीज पीसकर लेप करें।

(४) गूलकर के कच्चे फल, पुनर्नवा, बालछड़, रास्ना-इन्हें पीसकर लेप करें।

(५) बबूल की छाल और कत्था-इनका काढ़ा बनाकर उसके पानी में कपड़ा भिगोकर बाँधें।


यदि फोड़ा बढ़ गया हो, मुँह छटने लगा हो तो पकाने के लिए यह लेप अच्छे हैं-

१-मूली के बीज, सहजन के बीज, अलसी, तिल, राई, अंडी के बीज, बिनोले, सरसों, सन के बीज-इन्हें पीसकर गुनगुना लेप करें।

(२) हल्दी, आवा हल्दी, सेंधा नमक, चौकिया सुहागा, मैदा और घी-इनकी पुल्टिस बनाकर बाँधें।

(३) कन्नेर की जड़, कबूतर की बीट, करंज की गिरी, सोंठ, कुटकी, कायफल, मकोय की जड़-इनका लेप करें।

(४) आक की जड़ तंबाकू के पत्ते, लहसुन-इन्हें गुनगुना गरम कर लेप करें।

(५) अमरबेल, तुलसी की जड़, हरड़ हींग, सेंधा नमक, सहजन की छाल-इन्हें मठे में पीसकर लेप करें।

...पीछे | आगे....

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book